​तूने पूछा, क्या सोचते हो मेरे बारे में?

बस तुझे सोचता हूँ, अब क्या कहूँ इस बारे में?
आँख बाद कर जब तेरी आँखे सोची

तो खुद से बात हुई तेरे बारे में,

रात भर बिस्तर के सिरहाने में।

अब क्या बोलूँ उसको, जो पूछ बैठी की क्या सोचते हो मेरे बारे में।
तेरा दुपट्टा उड़े तो हवा सोचता हूँ,

तेरी पलकें झुकें तो दुआ सोचता हूँ,

तू बात करे तो राग सोचता हूँ,

लोगो को लगी नही तू ख़ास पर मैं तुझे ही देखता हूँ।

आज पूछ ही लिया है तो बता देता हूँ की मैं क्या सोचता हूँ।
तूने पूछा, क्या सोचते हो मेरे बारे में?

बस तुझे सोचता हूँ, अब क्या कहूँ इस बारे में?
कभी ठहाक्के लगाके के बोला था तूने,

अबे इस से प्यार??

पर मैं सोचता रहा रात भर इस बारे में।

आज वही लड़की पूछ रही है, क्या सोचते हो मेरे बारे में?
किसी ने कहा तेरी शादी होने वाली है बातों-बातों में,

तब से सोया नही हूँ रातो में!
तूने पूछा, क्या सोचते हो मेरे बारे में?

बस तुझे सोचता हूँ, अब क्या कहूँ इस बारे में?

Advertisements